allexamready

ncert maths class 10 solutions,10th class physics,12th class chemistry,12th class physics,12th class english,12th class biology

Email Subscriptions

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Saturday, 3 August 2019

what is the science definition ? What are these types ? (विज्ञान का परिभाषा क्या है ? ये कितने प्रकार के होते है? )

विज्ञान क्या है ? ( What is science ?), विज्ञान किसे कहते है। ( What is the science.),विज्ञान का परिभाषा क्या है ? (What is the science definition ?) विज्ञान कितने प्रकार के होते है। ( How many types of science are there )




what is the science definition ? What are these types ?
होशियारी से और एक के बाद एक प्रयोगों और जाँचो द्वारा उस वस्तु के वारे मे पता लगाना ही विज्ञान ( science ) कहलाता है।
                                                     
विज्ञान मुख्तः कितने प्रकार के होते है। (What are the main types of science)
विज्ञान मुख्तः दो प्रकार के होते है। (There are mainly two types of science)
भौतिकीय विज्ञान ( Physical science)
प्राकृतिक विज्ञान ( Netural science)


भौतिकीय विज्ञान  मुख्तः कितने प्रकार के होते है।
भौतिकीय विज्ञान मुख्तः दो प्रकार के होते है।
भौतिकी (Physics)
रसायनशास्त्र (Chemistry)

प्राकृतिक विज्ञान मुख्तः कितने प्रकार के होते है।
प्राकृतिक विज्ञान मुख्तः दो प्रकार के होते है।
वनस्पति विज्ञान (Botany)
जन्तु विज्ञान (Zoology)

भौतिकी किसे कहते है। (What are Physics)
physics में द्रव्य , शक्ति और इन सब के क्रियाओं की जानकारी हासिल करना ही physics कहलाता है।

अच्छी तरह से समझने और जानने के लिए physics को निम्नलिखित भागों मे बाँटा गया है।
भौतिकी विज्ञान की शाखाएँ (branches of physics )
1. यांत्रिकी (Mechanics)
2. ध्वनि ( Sound )
3. ऊष्मा ( Heat )
4. प्रकाश ( Light )
5. विधुत ( Electricity)
6. चुम्बकत्व ( Megnetism )
7. आधुनिक एवं परमाणु भौतिकी ( Modern and Atomic physics )
8. इलेक्ट्रॉनिक ( Electronics )

रसायनशास्त्र किसे कहते है। (What is Chemistry)
रसायनशास्त्र के अंदर हम किसी पदार्थ के गुण,संरचना और उस पदार्थ के क्रिया-प्रतिक्रिया(Reaction) के बारे मे पढ़ते है।

Chemistry को अच्छी तरह से समझने और जानने के लिए रसायनशास्त्र को निम्नलिखित भागों मे बाँटा गया है।
रसायनशास्त्र की शाखाएँ (Branches of chemistry )
1. भौतिकी रसायन (Physical Chemistry)
2. अकार्बनिक रसायन (Inorganic Chemistry)
3. कार्बनिक रसायन (Organic Chemistry)
4. औघोगिक रसायन (Industrial Chemistry)
5. जैव रसायन (Bio-Chemistry)
6. कृषि रसायन (Agriculture Chemistry)
7. औषधि रसायन (Medicine Chemistry)
8. विश्लेषिक रसायन (Analytic Chemistry)

Note:- आधुनिक रसायनशास्त्र(Modern Chemistry) के जन्मदाता लेवायसिये को कहा जाता है।

प्राकृतिक विज्ञान (Netural science) या जीव विज्ञान (Biology) किसे कहते है।
Biology में हमे सभी जीवों के जीवन , मृत्यु, उनके क्रियाकलाप, उनके बनावट, उनके शरीर पर वातावरण का किया प्रभाव पड़ता है,  उनके शरीर की वृद्धि, आदि इन सब के बारे मे जानकारी हासिल करना ही Biology or Natural science कहलाता है।


प्राकृतिक विज्ञान (Netural Science) या जीव विज्ञान (Biology) दो प्रकार के होते है।
वनस्पति विज्ञान (Botany) किसे कहते है।
पेंड़,पौधे के बारे मे जानकारी हासिल करना ही Botany कहलाता है।

Note:- थियोफ्रेस्टस को वनस्पति विज्ञान का जन्मदाता कहा जाता है। जिन्होने अपने पुस्तक Historia Plantarum मे 500 किस्म के पौधों का वर्णन किये है।


Botany को अच्छी तरह से समझने के लिए वनस्पति विज्ञान को निम्नलिखित भागों मे बाँटा गया है।
वनस्पति विज्ञान की शाखाएँ (Branches of botany)
1. पेलियोबॉटनी
2. लिम्नोलॉजी
3. टेरिडोलॉजी
4. एक्सोबायलॉजी
5. मोलीक्यूलर बायलॉजी
6. स्पर्मोलॉजी
7. हॉर्टीकल्चर
8. सिल्वीकल्चर
9. हेरीडिटी
10. इवोल्यूशन
11. पेरासिटोलॉजी
12. स्पेशबायलॉजी
13. जेनेटिक्स
14. फ्लोरीकल्चर
15. बायोमेट्रिक्स
16. एनाटोमी
17. बैक्टीरियोलॉजी
18.केसीडियोलॉजी
19. डेन्ड्रोलॉजी
20. ब्रायोलॉजी
21. एग्रोस्टोलॉजी
22. फॉरेस्ट्री
23. इथेनोबॉटनी
24. जेरोन्टोलॉजी
25. जेनेटिक इंजीनियरिंग
26. एम्ब्रियोलॉजी
27. लाइकेनोलॉजी
28. मॉर्फोलॉजी
29. माइकोप्लाज्मोलॉजी
30. इकोनॉमिक बॉटनी
31. पेलिनोलॉजी
32. माइक्रोबायलॉजी
33. माइकोलॉजी
34. पोमोलॉजी
35. टेक्सोनॉमी
36. बायोकेमिस्ट्री
37. हिस्टो केमिस्ट्री
38. एग्रोनोमी
39. हिस्टोलॉजी
40. निमेटोलॉजी
41. पेथोलॉजी
42. वायरोलॉजी
43. फिजियोलॉजी
44. टिश्यू कल्चर
45. फार्मेकोलॉजी
46. फाइटोजिओग्राफी
47. माइकोलॉजी
48.पिडोलॉजी
49. फाइटोफिजिक्स
50. प्लाण्ट ब्रीडिंग
51. रेडियेशन बॉयोलॉजी
52. बायोटेक्नोलॉजी
53. इकोलॉजी
54. साइटोलॉजी
55. डेन्ड्रोकोनोलॉजी
56. एन्तोलॉजी
57. एल्गोलॉजी

प्राणि विज्ञान (Zoology) किसे कहते है।
जीव,जन्तु और उनके किये गये काम के बारे मे जानकारी हासिल करना ही प्राणी विज्ञान(Zoology) कहलाता है।

Note:- अरस्तु को प्राणी विज्ञान का जन्मदाता कहा जाता है। जिन्होने अपने पुस्तक Historia Animalium में लगभग 500 जन्तुओं का वर्णन किया है।

Zoology को अच्छी तरह समझने के लिए जन्तु विज्ञान को निम्नलिखित भागों मे बाँटा गया है।
जन्तु विज्ञान की शाखाएँ (Branches of Zoology)
1. बायोमेट्रिक्स
2. सायटोलॉजी
3. एयरोबायोलॉजी
4. इन्जाइमोलॉजी
5. इम्यूनोलॉजी
6. हिस्टोलॉजी
7. इवोल्यूशन
8. एक्सटर्नल मॉरफोलॉजी
9. एनाटोमी
10. एम्ब्रायोलॉजी
11. मॉर्फोलॉजी
12. एरेकनोलॉजी
13. एन्जिओलॉजी
14. मेमलोलॉजी
15. एन्टोमोलॉजी
16. एन्थ्रोपोलॉजी
17. इकोलॉजी
18. हर्पेटोलॉजी
19. यूजेनिक्स
20. एण्डोक्राइनोलॉजी
21. पेथोलॉजी
22. ऑर्गेनोलॉजी
23. सिन्डेस्मोलॉजी
24. टेटोलॉजी
25. टेक्सोनॉमी
26. ऑर्निथोलॉजी
27. ऑस्टिओलॉजी
28. जूजियोग्राफी
29. फाइलोजेनी
30. आन्टोजेमी
31. सार्कोलॉजी
32. माइक्रोबायोलॉजी
33. फीजियोलॉजी
34. सिरोलॉजी
35. टॉक्सिकोलॉजी
36. साइकोबायोलॉजी
37. पारासिटोलॉजी
38. रेडियोलॉजी
39. पेलियेन्टोलॉजी
40. ट्रॉफोलॉजी
41. बायोकेमिस्ट्री
42. बायोमिक्स
43. इक्थियोलॉजी
44. क्रेनिओलॉजी
45. इथोलॉजी
46. जेनेटिक्स
47. कैरियोलॉजी
48. यूफेनिक्स
49. मायोलॉजी
50. मेलेकोलॉजी
51. मोल्यूकुलर बायोलॉजी
52. टेक्टोलॉजी
53. प्रोटोजोआलॉजी
54. ऑफियोलॉजी
55. ओडोन्टोलॉजी
56. न्यूरोलॉजी
57. हेल्मिन्थोलॉजी
58. हीमटोलॉजी


कृषि विज्ञान किसे कहते है।
फसल एवं फसल को ऊगाने से समबन्धित जानकारी और फसल को ऊगाने के ज्ञान को ही कृषि विज्ञान (Agriculture Science) कहते है।

Agriculture Science को अच्छी तरह से समझने के लिए Agriculture science को निम्नलिखित भागों मे बाँटा गया है।
कृषि विज्ञान की शाखाएँ (Branches of Agriculture science )
1. शस्य विज्ञान
2. कीट विज्ञान
3. पादप रोग विज्ञान
4. मृदा संरक्षण
5. कृषि अभियंत्रण
6. पादप दैहिकी
7. मृदा विज्ञान
8. कृषि जीव-रसायन
9. पादप आनुवंशिकी
10. हॉर्टीकल्चर

Book Sell→👉Buy Now👈👆

Friday, 26 July 2019

12th Class biology objective Ex-2 Part-1

12th Class biology objective

Ex-2 Part-1
1.मुख्य रूप से एक प्रारूपी पुष्प में प्रायः कितने प्रकार के पुष्प पत्र होते है।
(क) दो
(ख) चार
(ग) सात
(घ) पाँच
उत्तर→ (ख)

2.पुष्पों की खेती या पुष्प कृषि को कहते है।
(क) फ्लोरीकल्चर
(ख) कवक विज्ञान
(ग) सैरोलॉजी
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(क)

3.पुष्प में नर जनन संरचना को कहते है।
(क) जायांग
(ख) पुमंग
(ग) भ्रुण
(घ) योनि
उत्तर→(ख)

4.पुष्प मे मादा जनन संरचना को कहते है।
(क) योनि
(ख) भ्रुण
(ग) पुमंग
(घ) जायांग
उत्तर→(घ)

5.मादा जननांग पुष्प मे कहॉ पाया जाता है।
(क) बीच में
(ख) ऊपर में
(ग) निचे में
(घ) बगल में
उत्तर→(क)

6.मादा जननांग के इकाई को कहते है।
(क) कारपेल
(ख) पुंकेसर
(ग) पुमंग
(घ) जायांग
उत्तर→(क)

7.नर-जननांग के इकाई को कहते है।
(क) कारपेल
(ख) जायांग
(ग) पुंकेसर
(घ) पुमंग
उत्तर→(ग)

8.प्रत्येक पुंकेसर कितने भागों से मिलकर बना होता है।
(क) तीन
(ख) दो
(ग) चार
(घ) पाँच
उत्तर→(क)

9. गुड़हल पौधे मे आवृतबीजी परागकोष कितने पालियों वाले होते है।
(क) दो
(ख) एक
(ग) तीन
(घ) पाँच
उत्तर→(ख)


10.प्रत्येक पाली कितने कोष्ठिकों की बनी होती है।
(क) दो
(ख) एक
(ग) तीन
(घ) छः
उत्तर→(क)

11.निम्नलिखित में बंध्य पुंकेसर है।
(क) पिपल
(ख) बरगद
(ग) अमलतास
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर→(ग)

12.परागकोष की संरचना होती है।
(क) त्रिकोणीय
(ख) चतुष्कोणीय
(ग) एककोणीय
(घ) द्विकोणीय
उत्तर→(ख)

13.प्रत्येक परागकोष में कुल मिलाकर कितने कोष्ठक होते है।
(क) दो
(ख) पाँच
(ग) चार
(घ) तीन
उत्तर→(ग)

14.परागकोष की दोनों पालियाँ एक मध्य शिरा से जुड़ी होती है उसे कहते है।
(क) योजी
(ख) कोष्ठक
(ग) परागकण
(घ) परागपुट
उत्तर→(क)

15.पराग मातृकोशिका या लघुबीजाणु मातृकोशिका...........होती है।
(क) एकगुणित
(ख) छःगुणित
(ग) तीन गुणित
(घ) द्विगुणित
उत्तर→(घ)

16.प्रत्येक मातृकोशिका में विभाजन होता है।
(क) अर्द्धसूत्री
(ख) समसूत्री
(ग) पुत्री
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर→(क)

17.परागकोष के सबसे बाहर पायी जाने वाली परत है।
(क) अंतस्थीसियम
(ख) मध्य स्तर
(ग) टैपीटम
(घ) बाह्य त्वचा
उत्तर→(घ)

18.बाह्य त्वचा के नीचे वाले परत को कहते है।
(क) मध्य स्तर
(ख) टैपीटम
(ग) अंतस्थीसियम
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(ग)

19.अंतस्थीसियम कोशिकाओॆ मे परागकोष के परिपक्व होकर फटने वाले स्थान को कहते है।
(क) स्टोमियम
(ख) टैपीटम
(ग) मध्य स्तर
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(क)


20.अन्तस्थीसियम की कोशिकाएँ किस प्राकृति कि होती है।
(क) टैपीटम
(ख) अंतस्थीसियम
(ग) स्टोनियम
(घ) आर्द्रताग्राही
उत्तर→(घ)

Wednesday, 24 July 2019

12th Class biology objective Ex-1 Part-4

                           12th Class Biology Objective

Ex-1 Part-4
1.परागकण कहाँ बनता है।
(क) परागकोष में
(ख) गर्भाशय मेंं
(ग) क और ख दोनों
(घ) इनमें कोई नही
उत्तर→ (क)

2.नर युग्मकों की संख्या मादा युग्मकों की संख्या से......होती.है।
(क) ज्यादा
(ख) कम
(ग) बराबर
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर→ (क)

3. निम्नलिखित मे स्व-परागण होती है।
(क) द्विलिंगी पौधों में
(ख) एकलिंगी पौधों में
(ग) दोनों
(घ) इनमे से कोई नही
उत्तर→ (क)

4.कुछ प्राणियों मेंं बिना निषेचन के नये जीव का निर्माण होता है इस प्रकार की घटना को कहते है।
(क) अनिषेक जनन
(ख) लैंगिक जनन
(ग) अलैंगिक जनन
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर →(क)

5. निम्नलिखित मे अनिषेक जनन है।
(क) मधुमक्खी
(ख) रोटीफर्स
(ग) टर्की (पक्षी)
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर →(घ)

6.निषेचन होने के स्थान के अनुशार निषेचन कितने प्रकार के होते है।
(क) दो
(ख) एक
(ग) चार
(घ) तीन
उत्तर→ (क)

7.जब निषेचन की क्रिया शरीर से बाहर होती है उसे कहते हैः
(क) बाह्म निषेचन
(ख) आन्तरिक निषेचन
(ग) क होगा पर ख नही
(घ) क और ग दोनो
उत्तर→ (घ)

8.मेंढ़क मे युग्मक-संलयन होता है।
(क) जल में
(ख) स्थल में
(ग) दोनो
(घ) इनमे से कोई नही
उत्तर→ (क)

9.निम्नलिखित प्राणियों मे युग्मक-संलयन जल मे होता है।
(क) मछली
(ख) मेढक
(ग) जेलीफिश
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर→ (घ)

10. निम्नलिखित किसमें आंतरिक निषेचन करने वाले जीवों में मैथुन अंग नही होते है।
(क) नर ऑक्टोपस
(ख) सी स्टार
(ग) सीप
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर→ (क)


11.जाइगोट से भ्रूण के विकास की प्रक्रिया को कहते है।
(क) भ्रूणोद्भव
(ख) नर ऑक्टोपस
(ग) डिप्लॉण्टिक
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर →(क)

12.वैसा प्राणी जो अंडे देते है उसे कहते है।
(क) सजीव प्रजक
(ख) अंड प्रजक
(ग) भ्रूण प्रजक
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर →(ख)

13.पुष्पीय पादपों मे जाइगोट कहाँ बनता है।
(क) अंडाशय के अंदर
(ख) अंडाशय के बाहर
(ग) पुष्प के कोई भी भाग मे
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर →(क)

Unit Cell and their type

क्रिस्टल जालक

किसी ठोस पदार्थ के अंदर उसके बनने वाले कणों या परमाणुओं की संरचना दिखाने वाले आकृती को क्रिस्टल जालक कहते है।

एकक कोष्ठिका (Unit cell) :- क्रिस्टल जालक एक ही प्रकार की छोटी-छोटी ईकाइयों से मिलकर बनी होती है जिसे एकक कोष्ठिका या ईकाइ सेल कहते है।
Unit Cell
Unit Cell
क्रिस्टल जालक को बनाने वाले सबसे छोटी इकाई को  इकाई सेल (Unit cell) कहते है।


किसी ठोस पदार्थ के अंदर उसके बनाने वाले अव्यव जैसा- अणु, परमाणु और आयन उस ठोस के अंदर किसी प्रकार से व्यवस्थित होती है। ठोस पदार्थ के अंदर उसके आन्तरिक संरचना बनाने की प्रक्रिया को क्रिस्टलोग्राफी कहते है।

❄️ किसी ठोस पदार्थ की संरचना त्रिविमिय होती है। जिसके कारण इसके बनाने वाले कण को वोडरूपी समतल पर नही दिखाया जा सकता है।

किसी घन में
(क) किनारो की कुल संख्या = 12
(ख) काॅर्नर की कुल संख्या = 8
(ग) केन्द्र की संख्या = 1
(घ) सतह या फलन की संख्या = 6
(ड़) घन की सभी भुजा आपस मे बराबर होती है।
(च) घन का कुल पृष्ठ क्षेत्रफल = 6х (भुजा)^2
                  घन का आयतन = भुजा^3
                  घन का विकर्ण = √3 ✖️ भुजा
ठोस पदार्थ के परमाणु की स्थिति के आधार पर इकाई सेल को चार भागो मे बाँटा गया है।
(i) Simple Cubic unit cell (सरल घनाकार एकक कोष्ठिका / इकाई सेल (Sc)
(ii) Body centered unit cell (पिंड केन्द्रित एकक कोष्ठिका (bcc)
(iii) Face centered unit cell (फलन केन्द्रित एकक कोष्ठिका (Fcc)
(iv) Enge centered unit cell (किनारा केन्द्रित एकक कोष्ठिका (Ecc)

(i) Simple Cubic Unit Cell (Sc) :- वैसी इकाई सेल जिसमे उस ठोस पदार्थ को बनाने वाले कण जैसे- अणु, परमाणु और आयन केवल और केवल घन के काॅर्नर पर अवस्थित होती है उसे सरल घनाकार एकक कोष्ठिका कहते है।
sc
Sc

(ii) Body Centered Unit Cell (bcc) :-  वैसी एकक कोष्ठिका जिसमे ठोस के बनाने वाले कण घन के काॅर्नर के साथ-साथ पिंड के केन्द्र पर अवस्थित होती है उसे पिंड केन्द्रित एकक कोष्ठिका कहते है।
bcc full form,bcc,bcc unit cell
bcc

(iii) Face Centered Unit Cell (Fcc) :-  वैसा एकक कोष्ठिका जिसके बनाने वाले कण घन के कॉर्नर के साथ-साथ फलन के केन्द्र पर अवस्थित होती है उसे Fcc कहते है।
fcc,fcc full form, fcc unit cell
Fcc


(iv) Edge Centered Unit Cell (Ecc) :-  वैसा एकक कोष्ठिका जिसके बनाने वाले अणु,परमाणु और आयन घन के किनारों पर अवस्थित होती है। उसे Ecc कहते है।
body centered cubic unit cell edge length, body centered unit cell edge, body centered unit cell edge length, edge centered cubic unit cell, edge centered unit cell, edge centered unit cell example, edge centered unit cell examples, edge centered unit cell growth, edge centered unit cell hindi, edge centered unit cell meaning, edge centered unit cell meaning in hindi, edge centered unit cell notes, edge centered unit cell question, edge centered unit cell questions, edge centered unit cell types, edge centered unit cell value, edge centered unit cell volume, edge centred unit cell, edge length of a body centered cubic unit cell, edge length of a body centered unit cell, edge length of a face centered unit cell, edge length of body centered unit cell, edge length of face-centered cubic unit cell, face centered cubic unit cell edge
Edge Centered Unit Cell (Ecc)

Note- इस प्रकार के एकक कोष्ठिका मे परमाणु को सजा पाना संभव नही है।

Sunday, 21 July 2019

10th Class Physics Objective Ex-1 Part-1

                     10th Class Physics Objective

 Ex-1 Part-1
1.जिस वस्तु से प्रकाश निकलता है,उसे कहते है।
(क) प्रकाश-स्त्रोत
(ख) वस्तु-प्रकाश
(ग) प्रदीप्त
(घ) दीप्तीवान
उत्तर→(क)

2.निम्नलिखित में प्राकृतिक प्रकाश-स्त्रोत है।
(क) सूर्य
(ख) चन्द्रमा
(ग) क और ख दोनो
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(क)

3.निम्नलिखित में मानव-निर्मित प्रकाश-स्त्रोत है।
(क) सूर्य
(ख) दीया
(ग) तारे
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर→(ख)

4.वे वस्तुएँ जो प्रकाश उत्पन्न करती है उसे कहते है।
(क) प्रदीप्त
(ख) दीप्तिमान
(ग) क और ख दोनो
(घ) अप्रदीप्त
उत्तर→(ग)

5.वे वस्तुएँ जो प्रकाश उत्तपन्न नही करती है।
(क) प्रदीप्त
(ख) अप्रदीप्त 
(ग) क और ख दोनो
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(ख)

6.निम्नलिखित मे प्रदीप्त वस्तुएँ है।
(क) सूर्य
(ख) टेबुल 
(ग) कुर्सी
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर→(क)

7. निम्नलिखित मे अप्रदीप्त वस्तुएँ है।
(क) बिजली से जलता बल्ब
(ख) पौधे
(ग) क और ख दोनो
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(ख)

8.एक सरल रेखा पर चलनेवाले प्रकाश को कहते है।
(क) प्रकाश का किरणपुंज
(ख) प्रकाश की किरण
(ग) प्रकीर्णन
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(ख)

9.प्रकाश के किरणों के समूह को कहते है।
(क) प्रकाश का किरणपुंज
(ख) प्रकाश की किरण
(ग) प्रकीर्णन
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(क)


10.प्रकाश का किरणपुंज मुख्यतः कितने प्रकार के होते है।
(क) तीन
(ख) दो
(ग) चार 
(घ) छः
उत्तर→(क)

11.वैसा प्रकाश  किरणपुंज जिसमें प्रकाश कि किरणें एक बिन्दु से निकलकर फैलती चली जाती है। उस प्रकार के किरणपुंज को कहते है।
(क) समांतर किरणपुंज
(ख) अभिसारी किरणपुंज
(ग) अपसारी किरणपुंज
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(ग)

12.सुर्य किरणपुंज है।
(क) समांतर किरणपुंज
(ख) अपसारी किरणपुंज
(ग) अभिसारी किरणपुंज
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(क)

13.निम्नलिखित मे पारदर्शी पदार्थ है।
(क) काँच
(ख) पानी
(ग) हवा
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर→(घ)

14.निम्नलिखित मे पारभासी पदार्थ हैै।
(क) घिसा हुआ काँच
(ख) धातु की प्लेट
(ग) पेंट
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर→(क)

15.निम्नलिखित मे अपारदर्शी पदार्थ है।
(क) अलकतरा
(ख) लकड़ी
(ग) लोहा
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर→(घ)

16.प्रकाश के किसी वस्तु से टकराकर लौटने कि प्रक्रिया को कहते है।
(क) प्रकाश का परावर्तन
(ख) प्रकाश का अपवर्तन
(ग) प्रतिबिंब
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(क)

17.समतल दर्पण प्रकाश का एक अच्छा .........है।
(क) अपवर्तक
(ख) प्ररावर्तक 
(ग) क और ख दोनों
(घ) इनमें से कोई नही
उत्तर→(ख)

18.चन्द्रमा है।
(क) प्रदिप्त
(ख) दीप्तिमान
(ग) क और ख दोनों
(घ) अप्रदीप्त
उत्तर→(घ)

19.किसी सतह पर पड़नेवाली किरण को कहते है।
(क) आपतन बिन्दु
(ख) आपतित किरण
(ग) परावर्तित किरण
(घ) आपतन कोण
उत्तर→(क)

20.प्रकाश के परावर्तन के कितने नियम होते है।
(क) तीन
(ख) दो
(ग) छः
(घ) पाँच
उत्तर→(ख)